Breaking News

परीक्षा में शुल्क से अधिक राशि लेने पर फूटा छात्रों का गुस्सा

समस्तीपुर/हसनपुर : स्थानीय न्यू सुगर मिल्स उच्च विद्यालय में  मैट्रिक परीक्षा के शुल्क में ज्यादा राशि लिए जाने से यहां पढ़ने वाले छात्रों का गुस्सा फूट पड़ा. छात्र-छात्राओं ने इसके विरोध में स्कूल परिसर में जमकर हंगामा किया. साथ ही विद्यालय प्रशासन के विरोध में नारेबाजी करते हुए कई घंटों तक सड़क जाम किया. आक्रोशित छात्रों द्वारा घंटों जाम रखने से हसनपुर बाजार में करीब तीन किलोमीटर तक वाहनों की लंबी कतारें लग गईं. जिससे आवागमन पूरी तरह बाधित हो गया.

सड़क जाम में शामिल छात्र-छात्रा जितेन्द्र कुमार, प्रदीप कुमार, प्रिंस कुमार, रूपेश कुमार, नीतीश कुमार, प्रजा कुमार, पवन कुमार, दीपक कुमार, नीतिश शर्मा, कोमल कुमारी, आरती कुमारी, अनीता कुमारी, पूजा कुमारी, प्रियंका कुमारी, अवधेश कुमार, सुमित कुमार आदि का आरोप था कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति पटना के विज्ञप्ति संख्या-01/2017 में वार्षिक माध्यमिक परीक्षा 2017 के परीक्षार्थियों को फार्म भरने में सामान्य कोटि परीक्षाथियों को 565 रुपये बिना विलंब के शुल्क लेने का आदेश दिया गया. लेकिन प्रभारी प्रधानाध्यापक ने 630 रुपये शुल्क लेकर छात्र छात्राओं को 630 रुपये का फर्जी रसीद थमा देते हैं. इसके बावजूद बिहार विद्यालय परीक्षा समिति के आदेशानुसार 11 जनवरी 2017 तक बिना विलंब शुल्क के फार्म भरना है. लेकिन एचएम ने बुधवार से ही 100 रुपये विलंब शुल्क के साथ 730 रुपये की वसूली कराना शुरू कर दिए.sam-chatra

छात्रों ने यह भी बताया कि वर्ष 2012-13 में तत्कालीन अध्यनरत छात्र-छात्राओं की साइकिल, पोशाक एवं छात्रवृति की 25 लाख रुपये वर्ष 2016 में निकासी कर गबन कर लिया गया है. इसके अलावे प्रधानाध्यापक भुवन ने दर्जनों छात्र-छात्राओं का फर्जी नामांकन दर्शाकर लाखों रुपये का घोटाला किया. इस मामले में एचएम के विरूद्ध निगरानी विभाग थाना मुजफ्फरपुर में मामला भी दर्ज है. इसके बावजूद विद्यालय प्रधान द्वारा मैट्रिक परीक्षा के फार्म भरने में 165 रुपये प्रति छात्र वसूली की जा रही है. इस अवैध वसूली के विरूद्ध छात्र-छात्राओं ने सड़क जाम कर विद्यालय प्रशासन के विरूद्ध नारेबाजी की. जाम की सूचना पर पहुंची पुलिस ने जाम खाली कराने का प्रयास किया. लेकिन छात्र-छात्राओं ने एचएम के विरूद्ध प्राथमिकी दर्ज करने की मांग पर अड़ा रहा. करीब तीन घंटे बाद संजीव कुमार कुशवाहा, सअनि फुलेना यादव एवं लक्ष्मेश्वर प्रसाद सह की पहल पर बिना विलंब शुल्क के ही फार्म भरने की व्यवस्था करने के आश्वासन पर जाम समाप्त किया गया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *